जब हम अपना जीवन, जननी हिंदी, मातृभाषा हिंदी के लिये समर्पण कर दे तब हम किसी के प्रेमी कहे जा सकते हैं। - सेठ गोविंददास।
दशहरा | 15 अक्टूबर 2021
 
 

आश्विन शुक्ल दशमी के दिन विजयदशमी (दशहरा) का त्योहार मनाया जाता है। दशहरा हिन्दू त्योहारों में महत्वपूर्ण त्योहार है। सम्पूर्ण भारतवर्ष में हर्ष और उल्लास के साथ इस त्योहार को मनाया जाता है। इस दिन को असत्य पर सत्य की विजय के प्रतीक के रूप में मान्यता है। इस दिन भगवान राम ने रावण का वध कर माता सीता को उसकी कैद से छुड़ाया था। रावण वध से पूर्व राम ने दुर्गा की आराधना की थी व मां दुर्गा ने उनकी पूजा से प्रसन्न होकर उन्हें विजय का वरदान दिया था।

दशहरा अथवा विजयादशमी रामचंद्र की विजय के रूप में मनाया जाए या दुर्गा पूजा के रूप में, दोनों ही रूपों में यह शक्ति पूजा का पर्व माना जाता है।

नवरात्र में पश्चिम बंगाल की दुर्गा पूजा विश्व प्रसिद्ध है तो नवरात्र में गुजरात का डांडिया भी बेजोड़ है। डांडिया विदेशों में बसे भारतीयों के बीच भी अति लोकप्रिय है।

#

विजयदशमी से संबंधित सामग्री

 
दशहरा कविता

आज दशहरे की घड़ी आई
झूठ पर सच की जीत है भाई

रावण वध | दशहरा की पौराणिक कथा

रामचंद्रजी के बनवास काल के उपरांत लंका नरेश रावण रामचंद्रजी की पत्नी सीता का अपहरण कर लंका ले जाता है। भगवान श्री राम अपनी पत्नी सीता को रावण के बंधन से मुक्त कराने हेतु भाई लक्ष्मण, भक्त हनुमान एवं वानरों की सेना के साथ मिलकर रावण के साथ युद्ध किया।

महिषासुर वध | दशहरा की पौराणिक कथा

देवी दुर्गा ने विजय दशमी (दशहरा) के दिन महिषासुर जिसे भैंस असुर के नाम से भी जाना जाता है, का वध किया था।

 

Comment using facebook

 
 
Post Comment
 
Name:
Email:
Content:
 
 
  Type a word in English and press SPACE to transliterate.
Press CTRL+G to switch between English and the Hindi language.

सब्स्क्रिप्शन

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें