विदेशी भाषा का किसी स्वतंत्र राष्ट्र के राजकाज और शिक्षा की भाषा होना सांस्कृतिक दासता है। - वाल्टर चेनिंग
 
सुषमा स्वराज नहीं रहीं  (विविध)     
Author:भारत-दर्शन समाचार

6 अगस्त 2019 (भारत): भारत की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) का 6 अगस्त की रात दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में निधन हो गया। उन्हें हृदय आघात (हार्ट अटैक) होने पर एम्स लाया गया था और वे रात 10 बजे एम्स में भर्ती की गईं थी।

सुषमाजी को एक विदेश मंत्री के रूप में उनकी प्रतिबद्धता और सक्रियता के कारण सदैव जाना जाएगा। हिंदी से उनका अनुराग जगत प्रसिद्ध है। पिछले दो 'विश्व हिंदी स्म्मेलनों' में उनकी सक्रियता सराहनीय रही है।

निधन से कुछ घंटे पूर्व सुषमा ने एक ट्वीट में कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी थी। इसमें उन्होंने लिखा था- "जीवन में इसी दिन की प्रतीक्षा कर रही थी।"

सुषमा स्वराज का जन्म 14 फरवरी 1952 को हरियाणा के अंबाला में हुआ था। उनका परिवार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ा था।

सुषमा ने सबसे पहला चुनाव 1977 में लड़ा। तब वे 25 वर्ष की थीं। वे हरियाणा की अंबाला सीट से चुनाव जीतकर देश की सबसे युवा विधायक बनीं। आप हरियाणा की देवीलाल सरकार में मंत्री भी रहीं। आप किसी राज्य में मंत्री के पद पर रहने वाली सबसे युवा मंत्री थीं।

1998 में दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री बनीं।

Previous Page  |  Index Page  |   Next Page
 
 
Post Comment
 
 
 

सब्स्क्रिप्शन

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश

Deprecated: Directive 'allow_url_include' is deprecated in Unknown on line 0