हिंदी का पौधा दक्षिणवालों ने त्याग से सींचा है। - शंकरराव कप्पीकेरी
हिंदी वेब मीडिया | Web Hindi Journalism (विविध)    Print this  
Author:रोहित कुमार 'हैप्पी' | न्यूज़ीलैंड

क्या आप जानते हैं - वेब पर हिन्दी प्रकाशन और पत्रकारिता का आरंभ कब और कहाँ से हुआ? इंटरनेट पर हिंदी का पहला प्रकाशन कौनसा था? 

  • इंटरनेट की पहली हिंदी पत्रिका न्यूज़ीलैंड से प्रकाशित 'भारत-दर्शन' थी जिसका वेब संस्करण 1997 में उपलब्ध करवाया गया, इसके साथ ही पत्रिका को 'इंटरनेट पर विश्व का पहला हिन्दी प्रकाशन होने का गौरव प्राप्त हुआ। 
  • इसके बाद दूसरी 'बोलोजी' जिसमें कुछ पृष्ठ हिंदी के होते थे, 1999 में अमरीका से प्रकाशित हुई। राजेन्द्र कृष्ण इसका प्रकाशन करते थे। 
  • पूर्णिमा जी ने 2000 में ‘अभिव्यक्ति' का प्रकाशन शारजहा से आरम्भ किया।

दिलचस्प बात यह है कि उपरोक्त तीनों प्रकाशन ‘साहित्यिक' थे और इनका प्रकाशन भारत से न होकर न्यूजीलैंड, अमरीका व शारजहा से हुआ था।

इंटरनेट का पहला हिंदी प्रकाशन ‘भारत-दर्शन' था व इसके बाद ही भारत से ‘दैनिक जागरण' (1997) व भारत का पहला हिंदी पोर्टल ‘वेब दुनिया' (1999) अस्तित्व में आया।

इंटरनेट पर हिंदी प्रकाशन व वेब पत्रकारिता की पहल भारत से न होकर, प्रवासी भारतीयों द्वारा देश से बाहर रहते हुए की गई।

- रोहित कुमार ‘हैप्पी’

Previous Page  |   Next Page
 
Post Comment
 
 
 

सब्स्क्रिप्शन

सर्वेक्षण

भारत-दर्शन का नया रूप-रंग आपको कैसा लगा?

अच्छा लगा
अच्छा नही लगा
पता नहीं
आप किस देश से हैं?

यहाँ क्लिक करके परिणाम देखें

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश