दक्षिण की हिंदी विरोधी नीति वास्तव में दक्षिण की नहीं, बल्कि कुछ अंग्रेजी भक्तों की नीति है। - के.सी. सारंगमठ
ऑस्ट्रेलिया में रचनाएं आमंत्रित  (विविध)  Click to print this content  
Author:भारत-दर्शन समाचार

हिन्दी समाज ऑव ऑस्ट्रेलिया अपनी वार्षिक पत्रिका, 'भारत भारती' हेतु रचनाएं आमंत्रित कर रहा है।

Hindi Samaj of Western Australia

आप प्रकाश्नार्थ साहित्यिक सामग्री 30 मार्च 2016 तक भेज सकते हैं। आप लेख, कहानियाँ, चुटकले इत्यादि भेज सकते हैं।

पत्रिका का संभावित प्रकाशन जून 2016 में होगा।

रचनाएं चार पंक्तियों से 2 पृष्ठ तक के आकार की स्वीकार्य होंगी। इससे लंबी रचनाएं केवल गुणवत्ता के आधार पर संपादक द्वारा स्वीकार्य हो सकती हैं।

कृपया रचनाएं भेजते समय ध्यान रखें कि वे किसी कॉपीराइट व बौद्धिक अधिकारों का उल्लंघन न करती हों।

हिन्दी समाज ऑव ऑस्ट्रेलिया किसी प्रकार के कॉपीराइट के हर्जाने के लिए उत्तरदायी नहीं होगा।

आप अपनी रचनाएं, अपने छायाचित्र सहित निम्नलिखित ई-मेल पर 30 मार्च 2016 से पहले भेजें :

cm_rk@hindisamajwa.org

 

Previous Page  |  Index Page  |   Next Page
 
 
Post Comment
 
 
 

सब्स्क्रिप्शन

सर्वेक्षण

भारत-दर्शन का नया रूप-रंग आपको कैसा लगा?

अच्छा लगा
अच्छा नही लगा
पता नहीं
आप किस देश से हैं?

यहाँ क्लिक करके परिणाम देखें

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश