अपनी सरलता के कारण हिंदी प्रवासी भाइयों की स्वत: राष्ट्रभाषा हो गई। - भवानीदयाल संन्यासी।
76वें स्वतंत्रता दिवस का भव्य समारोह संपन्न (विविध)  Click to print this content  
Author:भारत-दर्शन समाचार

ऑकलैंड में 76वां स्वतंत्रता दिवस आयोजित

21 अगस्त  (न्यूज़ीलैंड ):  ऑकलैंड के महात्मा गांधी सेंटर में  स्वतंत्रता 76वां दिवस आयोजित किया गया। यह आयोजन भारत के उच्चायोग व भारतीय संस्थाओं ने किया था। इस अवसर पर न्यूज़ीलैंड के अनेक मंत्री, सांसद, ऑकलैंड के मेयर, भारत के उच्चायोग के अधिकारी, भारत के मानद कौंसल  व गणमान्य सम्मिलित हुए। 

सबसे पहले ध्वजारोहण व राष्ट्रगान हुआ और उसके बाद ऑकलैंड इंडियन एसोसिएशन के प्रधान 'धनसुख लाल',  ऑकलैंड में भारत के मानद कौंसल  ‘भाव ढिल्लो’, कार्यकारी उच्चायुक्त ‘मुकेश घिया’,  ऑकलैंड के मेयर ‘फिल गॉफ’ ने जनसमूह को संबोधित किया।  इसके पश्चात अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। इस अवसर पर न्यूज़ीलैंड के अनेक मंत्री और सांसद उपस्थित थे। न्यूज़ीलैंड की भारतीय मूल की मंत्री प्रियंका राधाकृष्णन ने जनसमूह को संबोधित किया। प्रियंका राधाकृष्णन न्यूजीलैंड सरकार में भारत में जन्मी पहली मंत्री हैं। न्यूज़ीलैंड के इमिग्रेशन मिनिस्टर ‘माइकल वुड’ और विपक्ष के नेता क्रिस्टोफ़र लक्सन ने भी जनसमूह को संबोधित किया। 

ऑकलैंड में भारत के मानद कौंसल  ‘भाव ढिल्लो’, कार्यकारी उच्चायुक्त ‘मुकेश घिया’

न्यूज़ीलैंड में भारत के कार्यकारी उच्चायुक्त ‘मुकेश घिया’, ऑकलैंड में भारत के मानद कौंसल ‘भाव ढिल्लो’ और भारतीय समाज के प्रधान जीत सचदेव ने ‘अमृत महोत्सव  क्विज' के विजेताओं और निबंध प्रतियोगिता के विजेताओं और निर्णायकों को भी सम्मानित किया। उन्हें प्रतीक चिह्न और प्रमाण पत्र दिए गए। निबंध प्रतियोगिता का आयोजन भारत के उच्चायोग और वैलिंगटन हिंदी स्कूल ने किया था। इस अवसर पर ऑकलैंड इंडियन एसोसिएशन के पूर्व प्रधान को उनकी आजीवन सेवाओं के लिए संस्था की ओर से सम्मानित किया गया। 

भारत से आए, 'खाना खजाना' के प्रख्यात 'मास्टर शेफ़' संजीव कपूर भी इस समारोह में विशेष आकर्षण थे। 

भारतीय सांस्कृतिक संबद्ध परिषद ने भारत की स्वतन्त्रता की 75वीं वर्षगांठ और 76वें  स्वतंत्रता  दिवस के अवसर पर विशेष तौर पर भांगड़ा समूह को न्यूज़ीलैंड भेजा गया है। ये सभी युवा चंडीगढ़ विश्वविद्यालय (CU) से हैं। सनद रहे कि इस वर्ष  15 अगस्त को भारत की  स्वतंत्रता  की 75वीं वर्षगांठ और 76वां स्वतन्त्रता दिवस था।  भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद् ने अमृत महोत्सव के अंतर्गत विश्व के अनेक देशों में सांस्कृतिक आयोजनों के लिए कलाकार भेजे हैं। 1997 में भी भारत की स्वतंत्रता की स्वर्ण जयंती के अवसर पर इसी प्रकार कलाकार भेजे गए थे। 

सांस्कृतिक कार्यक्रम के पश्चात जल-पान की भी व्यवस्था की गई थी। इस कार्यक्रम के भिन्न-भिन्न भागों का संचालन भी विभिन्न मंच संचालकों ने किया, जिनमें पुष्पाबेन लेकिनवाला (ऑकलैंड इंडियन एसोसिएशन), रूपा सचदेव (भारतीय समाज) और ज्योति पाराशर (भारतीय मंदिर) सम्मिलित हैं। 

[भारत-दर्शन समाचार]

 

वीडियो देखें

Previous Page  |  Index Page  |   Next Page
 
 
Post Comment
 
 
 

सब्स्क्रिप्शन

सर्वेक्षण

भारत-दर्शन का नया रूप-रंग आपको कैसा लगा?

अच्छा लगा
अच्छा नही लगा
पता नहीं
आप किस देश से हैं?

यहाँ क्लिक करके परिणाम देखें

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश