अपनी सरलता के कारण हिंदी प्रवासी भाइयों की स्वत: राष्ट्रभाषा हो गई। - भवानीदयाल संन्यासी।
75वें स्वतंत्रता दिवस का भव्य समारोह संपन्न (विविध)  Click to print this content  
Author:भारत-दर्शन समाचार

स्वतंत्रता दिवस 2021

15 अगस्त 2021 (न्यूजीलैंड): ऑकलैंड के महात्मा गांधी सेंटर में भारत के 75वें स्वतंत्रता दिवस का भव्य समारोह आयोजन किया गया। भारत के उच्चायुक्त मुक्तेश कुमार परदेशी ने ध्वजारोहण किया। उसके बाद राष्ट्रगान  हुआ। उच्चायुक्त ने अपने भाषण में घोषणा की कि भारत की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में सम्पूर्ण न्यूजीलैंड में ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव' वर्ष भर चलने वाला उत्सव होगा। उच्चायुक्त ने भारत के माननीय राष्ट्रपति के अभिभाषण के अंश भी पढ़े।

इस कार्यक्रम में अनेक गणमान्य उपस्थित थे जिनमें न्यूज़ीलैंड की मंत्री प्रियंका राधाकृष्णन, मंत्री माइकल वुड, ऑकलैंड के मेयर फिल गोफ, ऑकलैंड में भारत के मानद कौंसल भाव ढिल्लों व अनेक सांसद सम्मिलित थे।

इस अवसर पर उच्चायुक्त ने न्यूज़ीलैंड की मंत्री प्रियंका राधाकृष्णन को प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार 2021 प्रदान किया। प्रियंका राधाकृष्णन, न्यूजीलैंड सरकार में भारत में जन्मी पहली मंत्री हैं। उच्चायुक्त ने ‘भारत को जाने क्विज 2020-2021' के विजेताओं को भी सम्मानित किया और योग छायाचित्र प्रतियोगिता ‘योग इन एक्शन' के विजेताओं को भी प्रमाण पत्र दिए।

‘आज़ादी का अमृत महोत्सव' के अंतर्गत न्यूज़ीलैंड के मूल निवासियों के प्रति सम्मान जताते हुए उच्चायुक्त ने ‘माओरी की 75 कहावतें' ई-पुस्तिका भी लॉन्च की। यह पुस्तिका भारत-दर्शन पत्रिका के सहयोग से प्रकाशित होगी।

वेलिंगटन में द्वितीय सचिव और चांसरी के प्रमुख सी डॉस जयकुमार ने ध्वजारोहण किया। उन्होंने भारत के राष्ट्रपति के भाषण के अंश पढ़े। भारत का उच्चायोग वेलिंगटन में स्थित है और सामान्यतः भारत के उच्चायुक्त ही ध्वजारोहण करते हैं लेकिन इस बार ‘आज़ादी के अमृत महोत्सव' के विशेष आयोजन के कारण उच्चायुक्त ऑकलैंड के कार्यक्रम में सम्मिलित थे।

ऑकलैंड और वेलिंगटन के दोनों आयोजनों में भारतीय समुदाय और भारतीय शास्त्रीय नृत्य विद्यालयों के सदस्यों ने भारत की समृद्ध और विविध सांस्कृतिक विरासत प्रदर्शित करते हुए सांस्कृतिक प्रदर्शन प्रस्तुत किए।

इस अवसर पर उच्चायुक्त ने ऑकलैंड के मेयर से एक उपयुक्त स्थान के सुझाव की भी अपील की, जहां महात्मा गांधी की प्रतिमा स्थापित की जा सके। उन्होंने कहा कि ऑकलैंड में एक प्रमुख सार्वजनिक स्थान पर महात्मा गांधी की प्रतिमा स्थापित करना भारतीय समुदाय का एक सपना था।

इस कार्यक्रम के भिन्न-भिन्न भागों का संचालन भी विभिन्न मंच संचालकों ने किया लेकिन मुख्य रूप से कार्यक्रम का मंच संचालन भारतीय उच्चायोग के इशांत और ऑकलैंड की रूपा सचदेव ने किया।
[भारत-दर्शन समाचार]

Previous Page  |  Index Page  |   Next Page
 
 
Post Comment
 
 
 

सब्स्क्रिप्शन

सर्वेक्षण

भारत-दर्शन का नया रूप-रंग आपको कैसा लगा?

अच्छा लगा
अच्छा नही लगा
पता नहीं
आप किस देश से हैं?

यहाँ क्लिक करके परिणाम देखें

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश