विदेशी भाषा के शब्द, उसके भाव तथा दृष्टांत हमारे हृदय पर वह प्रभाव नहीं डाल सकते जो मातृभाषा के चिरपरिचित तथा हृदयग्राही वाक्य। - मन्नन द्विवेदी।
नमस्ते हिंदी - हिंदी से प्यार है (विविध)  Click to print this content  
Author:भारत-दर्शन समाचार

न्यूज़ीलैंड  (06  जनवरी 2022):  नमस्ते हिंदी - पिछले दिनों इस फिल्म को ऑनलाइन प्रदर्शित किया गया।  यह फिल्म वैश्विक हिंदी परिवार को समेटे हुए है। देश-विदेश के विद्वान, अध्यापक, लेखक, विद्यार्थी, मीडिया कर्मी, चिंतक, और भाषाविद इस फ़िल्म  में हिंदी के प्रति अपने प्रेम, सम्मान, और समर्पण की अभिव्यक्ति कर रहे हैं, जिन्हें हिंदी से प्यार है। इस फिल्म की निर्माण टीम में कई दिग्गज हैं-- प्रो राजेश कुमार, निर्देशक, डॉ संध्या सिंह, सह-निर्देशक और इसका सम्पादन किया है, अनुभव प्रियदर्शी ने।  

विदेश में बसे हुए एक दर्शक ने  इसे देखने के बाद अपनी प्रसन्नता दर्शाते हुए कहा, "नमस्ते हिंदी अवश्य देखें और उन मित्रों को दिखाएँ, जिन्हें हिंदी से प्यार है

आप भी नमस्ते हिंदी वीडियो देख सकते हैं। 

[भारत-दर्शन समाचार]

 

Previous Page  |  Index Page  |   Next Page
 
 
Post Comment
 
 
 

सब्स्क्रिप्शन

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें