भारतीय साहित्य और संस्कृति को हिंदी की देन बड़ी महत्त्वपूर्ण है। - सम्पूर्णानन्द।
 
विश्व हिंदी सचिवालय निबंध प्रतियोगिता परिणाम (विविध)     
Author:रोहित कुमार 'हैप्पी'

19 जनवरी 2015 (मॉरीशस): विश्व हिंदी सचिवालय, मॉरीशस द्वारा आयोजित अंतरराष्ट्रीय हिंदी निबंध प्रतियोगिता 2015 के परिणाम घोषित किए गए। प्रतियोगिता को पाँच भौगोलिक क्षेत्रों में बांटा गया था जिनमें अफ्रीका व मध्य पूर्व, अमेरिका, एशिया व ऑस्ट्रेलिया (भारत के अतिरिक्त), यूरोप व भारत सम्मिलित हैं।

प्रत्येक भौगोलिक क्षेत्र के विजेताओं को प्रमाण पत्र व नकद पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। नकद पुरस्कारों में प्रथम पुरस्कार 300 अमरीकी डालर, द्वितीय 200 अमरीकी डालर व तृतीय पुरस्कार 100 अमरीकी डालर होगा।

विजेताओं की सूची इस प्रकार है:

भौगोलिक क्षेत्र 1 : अफ्रीका व मध्य पूर्व

प्रथम पुरस्कार
श्री सोमदत्त काशीनाथ (मॉरीशस),

द्वितीय पुरस्कार
श्री माला रामबली (दक्षिण अफ्रीका)

तृतीय पुरस्कार : दो संयुक्त विजेता
श्रीमती बिद्वंती शंभु (मॉरीशस)

श्रीमती लक्ष्मी जयपोल-झापेरमाल (मॉरीशस)

भौगोलिक क्षेत्र 2 : अमरीका

प्रथम पुरस्कार
श्री दीपक कुमार चौरसिया (अमरीका)

द्वितीय पुरस्कार
सुश्री सूर्या कुमारी (अमरीका)

तृतीय पुरस्कार: संयुक्त
सुश्री उषा देवी शाक्य (कनेडा)
श्रीमती राजवंतकौर (अमरीका)


भौगोलिक क्षेत्र 3 : एशिया व ऑस्ट्रेलिया (भारत के अतिरिक्त)

प्रथम पुरस्कार
सुश्री रिद्मा निशादिनि लंसकारा (श्री लंका)

द्वितीय पुरस्कार
श्रीमती आरती शर्मा (ऑकलैंड, न्यूज़ीलैंड)

तृतीय पुरस्कार: तीन संयुक्त विजेता
श्रीमती पूर्णिमा पाटिल (ऑस्ट्रेलिया)
ओल्गा गोपोनोवा (रुस),
सुश्री हिमाली संजीवनी कोनारा (श्री लंका)


भौगोलिक क्षेत्र 4 : यूरोप

प्रथम पुरस्कार
सुश्री नीना पॉल (यू. के)
द्वितीय पुरस्कार
सुश्री बेआत्रिस स्तेंवाल (स्वीडन)
तृतीय पुरस्कार
श्रीमती ज़किया जुबैरी (यू. के)


भौगोलिक क्षेत्र 5 : भारत

प्रथम पुरस्कार
डॉ सी. जय शंकर बाबु (पांडेचेरी, भारत)

द्वितीय पुरस्कार: संयुक्त
डॉ जय कौशल (काशी, भारत)
श्री आलोक धर द्विवेदी (उत्तर प्रदेश, भारत)
डॉ अख्तर आलम (वर्धा, भारत)
श्री अनंत प्रसाद सिन्हा (बिहार, भारत)
डा राकेश कुमार दुबे (उत्तर प्रदेश, भारत)

प्रतियोगिता में भारत सहित विश्व के अनेक प्रतियोगियों ने भाग लिया था।

#


- रोहित कुमार 'हैप्पी'

 

Previous Page  |  Index Page  |   Next Page
 
 
Post Comment
 
 
 

सब्स्क्रिप्शन

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश