विदेशी भाषा का किसी स्वतंत्र राष्ट्र के राजकाज और शिक्षा की भाषा होना सांस्कृतिक दासता है। - वाल्टर चेनिंग
 
न्यूजीलैंड के सांसद कंवलजीत बक्‍शी प्रवासी भारतीय दिवस पर सम्मानित (विविध)     
Author:भारत-दर्शन संकलन

ऑकलैंड, जनवरी, 10, 2015: न्यूजीलैंड के सांसद कंवलजीत बक्‍शी प्रवासी भारतीय दिवस पर सम्मानित होने वाले 15 प्रवासी भारतीयों में से एक होंगे। वे  न्यूजीलैंड की संसद में भारतीय मूल के प्रथम सदस्य हैं व न्यूजीलैंड की संसद के पहले सिख सदस्य भी हैं। वे मूलत: नई दिल्ली से संबंध रखते हैं, न्यूजीलैंड में आने से पहले वे नई दिल्ली में अपना व्यापार करते थे।

Previous Page  |  Index Page  |   Next Page
 
 
Post Comment
 
 
 

सब्स्क्रिप्शन

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश

Deprecated: Directive 'allow_url_include' is deprecated in Unknown on line 0