विदेशी भाषा का किसी स्वतंत्र राष्ट्र के राजकाज और शिक्षा की भाषा होना सांस्कृतिक दासता है। - वाल्टर चेनिंग
 
अंतरराष्ट्रीय हिंदी व्यंग्य प्रतियोगिता 2020 के परिणाम (विविध)     
Author:भारत-दर्शन समाचार

12 जनवरी 2021 :  मॉरीशस में विश्व हिंदी सचिवालय ने 11 जनवरी 2021 को विश्व हिंदी दिवस समारोह का आयोजन किया और इस अवसर पर 'अंतरराष्ट्रीय हिंदी व्यंग्य प्रतियोगिता' के परिणामों की घोषणा की।

विश्व हिंदी दिवस 2021 के उपलक्ष्य में सचिवालय ने 2020 में 'अंतरराष्ट्रीय हिंदी व्यंग्य प्रतियोगिता' का आयोजन किया था। प्रतियोगिता को 5 भौगोलिक क्षेत्रों में बाँटा गया था:

1. अफ़्रीका व मध्य पूर्व
2. अमेरिका
3. एशिया व ऑस्ट्रेलिया (भारत के अतिरिक्त) 
4. यूरोप 
5. भारत

प्रतियोगिता के परिणाम इस प्रकार हैं:

अफ़्रीका व मध्य पूर्वचांदनी रामधनी , मॉरीशस (प्रथम पुरस्कार), बिद्वंती शम्भु, मॉरीशस (द्वितीय पुरस्कार),  प्रेरणा अरियानाइक, मॉरीशस (तृतीय पुरस्कार)। 

अमेरिका - डॉ कुसुम नैपसिक, अमेरिका (प्रथम पुरस्कार), आस्था नवल,  अमेरिका (द्वितीय पुरस्कार), धर्मपाल महेंद्र जैन, कनाडा और दीपक कुमार चौरसिया, अमेरिका (तृतीय पुरस्कार)। 

एशिया व ऑस्ट्रेलिया (भारत के अतिरिक्त): वीणा सिन्हा, नेपाल (प्रथम पुरस्कार), रीता कौशल (द्वितीय पुरस्कार), रोहित कुमार ‘हैप्पी’, न्यूज़ीलैंड (तृतीय पुरस्कार)। 

यूरोप -  मधु कुमारी चौरसिया, यू.के (प्रथम पुरस्कार),

भारतडॉ. राकेश शर्मा, गोवा, भारत (प्रथम पुरस्कार), महेश शर्मा, राजस्थान, भारत (द्वितीय पुरस्कार), धर्मेन्द्र कुमार सिंह, भारत (तृतीय पुरस्कार)। 

इस प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पाने वालों को 300, 200 और 100 अमरीकन डालर की धनराशि व प्रमाण-पत्र से पुरस्कृत किया जाएगा। 

विश्व हिंदी सचिवालय पिछले कई वर्षों से विभिन्न विधाओं पर ऐसी प्रतियोगिताएँ आयोजित कर चुका है जिनमें लघुकथा, एकाँकी और यात्रा वृतांत सम्मिलित हैं। इसी शृंखला को आगे बढ़ाते हुए इस बार 'हिंदी कहानी प्रतियोगिता' का चयन किया गया था।

Previous Page  |  Index Page  |   Next Page
 
 
Post Comment
 
 
 

सब्स्क्रिप्शन

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश

Deprecated: Directive 'allow_url_include' is deprecated in Unknown on line 0