वह हृदय नहीं है पत्थर है, जिसमें स्वदेश का प्यार नहीं। - मैथिलीशरण गुप्त।
डा. भीम राव अंबेडकर जयंती | 14 अप्रैल
 
 

भारत को संविधान देने वाले महान नेता डा. भीम राव अंबेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को मध्य प्रदेश के एक छोटे से गांव में हुआ था। डा. भीमराव अंबेडकर के पिता का नाम रामजी मालोजी सकपाल और माता का भीमाबाई था। अपने माता-पिता की चौदहवीं संतान के रूप में जन्में डॉ. भीमराव अम्बेडकर जन्मजात प्रतिभा संपन्न थे।

डा. भीमराव अम्बेड़कर के जन्म-दिवस पर पढ़िए राजीव आनंद का विशेष आलेख, 'डा. भीमराव अम्बेड़कर के राज्य समाजवाद का कोई पूछनहार नहीं'

 
डा. भीम राव अंबेडकर का जीवन परिचय

भारत को संविधान देने वाले महान नेता डा. भीम राव अंबेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को मध्य प्रदेश के एक छोटे से गांव में हुआ था। डा. भीमराव अंबेडकर के पिता का नाम रामजी मालोजी सकपाल और माता का भीमाबाई था। अपने माता-पिता की चौदहवीं व अंतिम संतान के रूप में जन्में डॉ. भीमराव अम्बेडकर जन्मजात प्रतिभा संपन्न थे।

डा. भीमराव अम्बेड़कर के राज्य समाजवाद का कोई पूछनहार नहीं - 122वें जन्मदिवस पर विशेष

डा. अम्बेड़कर ने महात्मा फूले की शिक्षा संबंधी सोच को परिवर्तन की राजनीति के केन्द्र में रखकर संघर्ष किया और आने वाले नस्लों को जाति के विनाश का एक ऐसा मूलमंत्र दिया जो सही अर्थों में सामाजिक परिवर्तन का बाहक बन सके।

बाबा साहब | कविता

संवारा है विधि ने वह छण इस तरह से,
दिया जब जगत को है उपहार ऐसा ।

बाबा साहब का चमत्कार

1956 में भारत में एक महान् चमत्कार देखने को मिला। दलित और पीड़ित जनता के हदय-सम्राट डा. बाबा साहब अंबेडकर ने 14 अक्टूबर 1956 को अशोक विजयादशमी के दिन नागपुर में अपने पाँच लाख साथियों के साथ बौद्धधर्म की दीक्षा ली ।

 
Posted By Shailendra kumar    on  Thursday, 01-01-1970
7309670325
Posted By विनाय कुमार    on  Thursday, 01-01-1970
873607729
Posted By Dilraj kumar rhotasi   on  Thursday, 01-01-1970
8521008769
Posted By nirmal maurya   on  Thursday, 01-01-1970
7800247504

Comment using facebook

 
 
Post Comment
 
Name:
Email:
Content:
 
 
  Type a word in English and press SPACE to transliterate.
Press CTRL+G to switch between English and the Hindi language.

सब्स्क्रिप्शन

सर्वेक्षण

भारत-दर्शन का नया रूप-रंग आपको कैसा लगा?

अच्छा लगा
अच्छा नही लगा
पता नहीं
आप किस देश से हैं?

यहाँ क्लिक करके परिणाम देखें

इस अंक में

 

इस अंक की समग्र सामग्री पढ़ें

 

 

सम्पर्क करें

आपका नाम
ई-मेल
संदेश